तंत्र-मंत्र के लिए पति ने ही की थी बेरहमी से हत्या, दिल निकालकर गंगा किनारे रेत में गाड़ा

Feb 7, 2024 - 22:34
 0  32
तंत्र-मंत्र के लिए पति ने ही की थी बेरहमी से हत्या, दिल निकालकर गंगा किनारे रेत में गाड़ा
झूंसी थाना क्षेत्र के नीबी भतकार गांव में छह दिन पहले 45 वर्षीय बिटोला देवी की हत्या तंत्र-मंत्र की क्रिया को पूरा करने के लिए की गई थी। महिला को मौत के घाट उतारने में कुल चार लोग शामिल थे। तंत्र-मंत्र की क्रिया पूरी करने के लिए बिटोला देवी को पहले गंगा के कछार में हसिया से बेरहमी से वार कर मारा डाला गया। इसके बाद उसका दिल निकालकर तंत्र-मंत्र की क्रिया पूरी की गई।बाद में उसके दिल को गंगा के कछार में गाड़ दिया गया। पुलिस ने एक अन्य आरोपी को भी बुधवार को हिरासत में लिया है। जल्द ही पुलिस आरोपियों को मौके पर ले जाकर गाड़े गए दिल के बारे में पता करेगी।थाना क्षेत्र के नीबी भतकार गांव निवासी रामआसरे निषाद के मुताबिक उसकी 45 वर्षीय पत्नी बिटोला देवी तीन फरवरी की शाम गंगा के कछार में सरपत काटने गई थी। इसके बाद वह नहीं लौटी। इसी बीच दूसरे दिन उसका क्षत-विक्षत शव गंगा के कछार में पड़ा गया। शव को किसी और नहीं बल्कि उसके पति रामआसरे ने ही सबसे पहले देखा। महिला के सीने को फाड़कर उसका दिल निकाल लिया गया था। पति समेत चार लोग थे हत्या में शामिल घटना की सूचना पुलिस को दी गई तो मौके पर पहुंची और महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए चीरघर भेज दिया। पुलिस की अब तक की जांच में पता चला है कि महिला बिटोला देवी की हत्या को किसी अपने करीबी ने ही अन्य लोगाें के साथ मिलकर अंजाम दिया है। झूंसी पुलिस के मुताबिक यह सब तंत्र-मंत्र की क्रिया को पूरा करने के लिए किया गया। महिला को पहले बेरहमी से गंगा के कछार में मौत के घाट उतारा गया। इसके बाद उसके दिल को निकालकर कछार में तंत्र-मंत्र की क्रिया को पूरा किया गया। इसके बाद महिला के दिल को कछार में ही कहीं गाड़ दिया गया। एसओ उपेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि महिला की हत्या को कुल चार लोगों ने मिलकर अंजाम दिया है। पुलिस ने दो कथित तांत्रिकों को भी हिरासत में लिया है। जल्द ही पुलिस की एक टीम महिला के दिल की तलाश में नीबी-भतकार गांव के कछार में जाएगी।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow